India Canada News: इन शेयरों को लग सकता है बड़ा झटका, कहीं आपके पोर्टफोलियो में तो नहीं हैं मौजुद?

India Canada News: भारत और कैनडा(Canada) के बीच के तनाव का इफेक्ट शेयर मार्केट में पड़ता दिख रहा हैं। अब ऐसे में कई कंपनी जिसपर इनका डायरेक्टली और इनडायरेक्टली असर देखने को मिल रहा हैं और आगे भी देखने को मिल सकता हैं। तो अगर आपके पास यह शेयर मौजुद हैं या आप निवेश करने की सोच रहे हों तो आप यह आर्टिकल पुरा जरुर पढें।

मामला क्या चल रहा हैं?

दरअसल, कैनडा पेंशन प्लान इन्वेस्टमेंट बोर्ड (CPPIB) भारत के बाजार में इन्वेस्टमेंट करनेवाली सबसे बड़ी विदेशी पोर्टफोलियो निवेश(FPI) में से एक हैं। दोनों के देश में तनाव चलने के कारण CPPIB अब बिकवाली के मुड में दिखाई दे रहे हैं।

दरसल कैनडा भारत के बाजार में FPI में विदेशी निवेशकों में सातवें नंबर का देश हैं। दरअसल, एनएसडिएल के अनुसार कैनडा में FIP के पास की संपत्ती लगभग 21 बिलियन डॉलर इतनी बड़ी हैं। इसके साथ ही रियल एस्टेट और इंफ्रा प्रोजेक्ट्स में भी अच्छा निवेश हैं।

क्या हैं कलह का कारण?

दरअसल, खालिस्तानी (khalistan) अलगाववादी नेता हरिदिप सिंह निज्जर (Hardeep Singh nizzar) की हत्या हो गई हैं कैनडा पंतप्रधान का कहना हैं की इसमें भारतीय एजेंट की संलिप्तता के कारण हैं। लेकिन भारत ने इसपर आपत्ति जताई हैं और इसे ख़ारिज कर दिया हैं।

इन शेयरों पर लगाया हैं CPPIB ने पैसा

दरअसल, CPPIB ने नायका, पेटिएम, जोमैटो और डिलेवरी जैसी कंपनीज में अपना पैसा लगाया हैं। यह वह कंपनीया हैं जिनका आयपीओ 2 साल में ही आया था। अब इनके शेयरों में 1 से 2 प्रतिशत तक गिरावट भी आई हैं। CPPIB की इसमें क्रमश 1.47, 1.76, 2.37 और 6 फिसदी हिस्सेदारी हैं। इन चार में ही इनकी लगभग 5,566 करोंड़ रुपयों का निवेश हैं।

इन कंपनीयों में भी हैं निवेश

ऊपर दिये हुयें कंपनीओं के अलावा 2.68 प्रतिशत हिस्सेदारी कोटक महिंद्रा बैंक में। इंडस टावर में लगभग 2.18 प्रतिशत हिस्सेदारी CPPIB के पास हैं।

आज ही अपना फ्री डीमैट एकाउंट खोलें

अगर आपको ऊपर दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने मित्रों और परिवार के साथ जरुर साझा करें। हमारे टेलिग्राम और वाट्सऐप को जरुर जाॅईन करें। अगर आपके कोई सवाल और सुझाव हो तो आप हमे जरुर लिखे।


ये भी पढ़ें

अस्वीकरण: केवल संदर्भ उद्देश्य के लिए है, यह भविष्यवाणी केवल तभी है जब बाजार की सकारात्मक भावनाएं हों, और कंपनी या वैश्विक बाजार की स्थिति में कोई भी अनिश्चितता इस विश्लेषण में शामिल नहीं है।

Rate this post