DOMS IPO : हर शेयर पर 56% से ज्यादा कमाई! IPO खुलने से पहले ही ₹482 प्रीमियम पर भाव ,ओपनिंग से दो दिन पहले ग्रे मार्केट में DOMS IPO का तूफान

Doms IPO: स्टेशनरी प्रोडक्‍ट्स की निर्माता Doms Industries Limited का आईपीओ बुधवार को बिडिंग के लिए ओपन हो रहा है. पिछले हफ्ते लॉन्चिंग की तारीख तय होने के बाद से ग्रे मार्केट में कंपनी के शेयरों में तूफानी तेजी बनी हुई है. लॉन्चिंग से दो दिन पहले सोमवार को DOMS IPO का GMP 448 के लेवल पर मौजूद है. चार दिसंबर के बाद से प्रीमियम टॉप गेयर में दौड़ रहा है, और पिछले शुक्रवार को अधिकतम 483 अंकों के लेवल को टच कर चुका है. मौजूदा प्रीमियम के हिसाब से देखें तो शेयरों की लिस्टिंग 1238 रुपये में हो सकती है और निवेशकों को 56.71 प्रतिशत मुनाफा हो सकता है.

Doms Industries IPO का आइपीओ का प्राइस बैंड 750 रुपये से 790 रुपये है. आईपीओ के शेयरो की फेस वैल्यू 10 रुपये है. आईपीओ के लिए बोली लगाने की आखिरी तारीख 15 दिसंबर है.

एक लॉट के लिए खर्च करने पड़ेंगे 14220 रुपये

आईपीओ का फ्लोर प्राइस इक्विटी शेयरों की फेस वैल्यू का 75 गुना है, जबकि कैप प्राइस 79 गुना है. कपंनी ने एक लाट में 18 शेयर शामिल किए हैं. अधिक शेयरों के लिए 18 के मल्टीपल में आवेदन करना होगा. इस प्रकार, एक लॉट के लिए 14220 रुपये खर्च करना होगा.

1200 करोड़ रुपये का है ईश्यू

Doms IPO का ईश्यू साइज़ 1200 करोड़ रुपये का है, जिनमें 350 करोड़ रुपये का फ्रेश ईश्यू और 850 करोड़ रुपये के ऑफर फॉर सेल शेयर शामिल हैं. OFS के तहत कॉर्पोरेट प्रमोटर फैब्रीका इटालियाना लैपाइज्ड एफिनी स्पा (FILA) 800 करोड़ रुपये के शेयर बेचेगा. उसने इन शेयरों का अधिग्रहण औसतन 101.53 रुपये की दर से किया था. इसके अलावा प्रमोटर संजय मनसुखलाल राजानी और केतन मनसुखलाल राजानी 25-25 करोड़ रुपये के शेयर बेचेंगे.

कंपनी में इटालियन समूह FILA की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है, जबकि संतोष रसिकलाल रवेशिया 17 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ दूसरे सबसे बड़े शेयरधारक हैं. रेड हेरिंग पेपर्स के अनुसार, संजय मनसुखलाल राजानी और केतन मनसुखलाल राजानी के पास फर्म में 8.63 प्रतिशत हिस्सेदारी है, जबकि चांदनी विजय सोमैया, सेजल संतोष रवेशिया और शीतल हिरेन पारपानी के पास 4 प्रतिशत हिस्सेदारी है.

आईपीओ की से जुड़ी महत्वपूर्ण तारीखें

सेबी की ओर से एक दिसंबर से लिस्टिंग में T+3 टाइमलाइन अनिवार्य किए जाने के बाद से लॉन्च होने वाला पहला मेनबोर्ड आईपीओ Doms Industries का आईपीओ ही है. T+3 टाइमलाइन के तहत शेयरों की लिस्टिंग आईपीओ क्लोज़ होने के तीन कार्य दिवसों के भीतर करना होता है. इस लिहाज़ से देखे तो डोम्स आईपीओ की संभावित लिस्टिंग डेट 20 दिसंबर हो सकती है. शेयरों के आवंटन को अंतिम रूप 18 दिसंबर को दिया जाएगा, जबकि 19 दिसंबर को शेयर क्रेडिट किए जाएंगे. आईपीओ को BSE और NSE पर लिस्ट किया जाएगा. एंकर बुकिंग के ‌लिए आईपीओ प‌ब्लिक बिडिंग की तारीख से एक दिन पहले 12 दिसंबर को खोला जाएगा.

आईपीओ का स्ट्रक्चर

आईपीओ के तहत QIBs के लिए नेट ऑफर का 75 प्रतिशत, NIIs के लिए 15 प्रतिशत और खुदरा निवेशकों के लिए 10 प्रतिशत हिस्सा आरक्षित किया गया है. ऑफर में कंपनी के कर्मचारियों के लिए 5 करोड़ रुपये तक के शेयरों को रिजर्व किया गया है. कंपनी ने कर्मचारियों को प्रति इक्विटी शेयर 75 रुपपे की छूट की पेशकश की है.

DOMS IPO GMP Today: स्टेशनरी और आर्ट कंपनी डोम्स इंडस्ट्रीज का आईपीओ 13 दिसंबर, 2023 (बुधवार)  को खुलने जा रहा है। इस आईपीओ में आम निवेशक 15 दिसंबर, 2023 तक पैसे लगा सकते हैं।  इस आईपीओ में 350 करोड़ रुपये का फ्रैश इश्यू और  850 करोड़ रुपये का ओएफएस शामिल है। इस ओएफएस में कंपनी के प्रमोटर्स की ओर से शेयरों की बिक्री की जा रही है।

आज ही अपना फ्री डीमैट एकाउंट खोलें

DOMS IPO का प्राइस बैंड और लॉट साइज 

डोम्स आईपीओ का प्राइस बैंड 750 रुपये से लेकर 790 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है। इसका लॉट साइज 18 शेयरों का होगा। ऊपरी बैंड के कैलुकेशन के अनुसार, आईपीओ में बोली लगाने के लिए कम से कम 14,220 रुपये की आवश्यकता होगी। 

DOMS IPO का GMP

मिंट की रिपोर्ट के मुताबिक, डोम्स आईपीओ का जीएमपी या ग्रे मार्केट प्रीमियम 451 रुपये प्रति शेयर चल रहा है। जीएमपी को सूचकांक माना जाता है जो दिखाता है कि शेयर की संभावित लिस्टिंग किस शेयर प्राइस पर हो सकती है। जीएमपी बाजार की परिस्थितियों और आईपीओ के प्रति निवेशकों के रुझान के मुताबिक बदलता रहता है। अधिक जीएमपी होना इस बात का प्रमाण नहीं है कि शेयर की लिस्टिंग इस प्रीमियम के साथ होगी। 

DOM IPO की कब होगी लिस्टिंग 

टी+3 एक दिसंबर से अनिवार्य होने के बाद डोम्स इंडस्ट्रीज पहला आईपीओ होगा, जिसकी लिस्टिंग नियम अनिवार्य होने के बाद होगी। ये आईपीओ 15 दिसंबर को बंद होगा। उसके बाद 18 दिसंबर (सोमवार) को इसका अलॉटमेंट हो सकता है। डोम्स आईपीओ की लिस्टिंग बीएसई और एनएसई पर 20 दिसंबर को हो सकती है। 

कंपनी का कारोबार 

डोम्स इंडस्ट्रीज देश की दूसरी सबसे बड़ी स्टेशनरी और आर्ट प्रोडक्ट्स कंपनी है। वित्त वर्ष 2022-23 में कंपनी का मार्केट शेयर 12 प्रतिशत का रहा है। इस अवधि में कंपनी को 95.8 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था और आय करीब 1,212 करोड़ रुपये की रही थी। 


ये भी पढ़ें

अस्वीकरण: केवल संदर्भ उद्देश्य के लिए है, यह भविष्यवाणी केवल तभी है जब बाजार की सकारात्मक भावनाएं हों, और कंपनी या वैश्विक बाजार की स्थिति में कोई भी अनिश्चितता इस विश्लेषण में शामिल नहीं है।

5/5 - (1 vote)

2 thoughts on “DOMS IPO : हर शेयर पर 56% से ज्यादा कमाई! IPO खुलने से पहले ही ₹482 प्रीमियम पर भाव ,ओपनिंग से दो दिन पहले ग्रे मार्केट में DOMS IPO का तूफान”

Leave a Comment